PSEB 12th Class Hindi Book Solutions | PSEB 12th Class Hindi Guide

Punjab State Board Syllabus PSEB 12th Class Hindi Book Solutions Guide Pdf is part of PSEB Solutions for Class 12.

PSEB 12th Class Hindi Guide | Hindi Guide for Class 12 PSEB

Hindi Guide for Class 12 PSEB | PSEB 12th Class Hindi Book Solutions

प्राचीन काव्य

आधुनिक काव्य

निबन्ध भाग

कहानी भाग

एकांकी भाग

हिन्दी साहित्य का इतिहास

  • रीतिकाल और आधुनिक काल

PSEB 12th Class Hindi Book Vyakaran व्याकरण

व्यावहारिक व्याकरण

PSEB 12th Class Hindi Book Rachana रचना-भाग

PSEB 12th Class Hindi Structure of Question Paper

कक्षा – बारहवीं (पंजाब)
विषय – हिंदी

समय : 3 घंटे

पूर्णांक लिखित : 80

नोट – (i) 05 अंक सुंदर लिखाई के लिए निर्धारित किए गए हैं। अक्षरों व शब्दों के सामान्य आकार, अक्षरों की सुस्पष्टता, अक्षरों व शब्दों के बीच की निश्चित दूरी, लिखने में एकसारता व प्रवाहयुक्त लेखन आदि के आधार पर अध्यापक परीक्षार्थी को लिखाई का मूल्यांकन करेगा।

  • प्रश्न-पत्र में कुल 15 प्रश्न होंगे।
  • सभी प्रश्न हल करने अनिवार्य होंगे।
  • प्रश्न-पत्र के छह भाग (क से च तक) होंगे।

भाग – क : अति लघूत्तर प्रश्न (वस्तुनिष्ठ प्रश्न) (20 Marks)

प्रश्न 1. में (i) से (x) तक वस्तुनिष्ठ प्रश्न पूछे जायेंगे। प्रत्येक प्रश्न एक अंक का होगा। ये प्रश्न एक शब्द से एक वाक्य तक के उत्तर वाले अथवा हां/नहीं अथवा रिक्त स्थानों की पूर्ति करो अथवा सही/गलत अथवा बहुवैकल्पिक उत्तरों वाले, किसी भी प्रकार के हो सकते हैं।

  • (i – iv) तक समास (अव्ययीभाव, तत्पुरुष, बहुब्रीहि तथा द्वंद्व) से संबंधित चार वस्तुनिष्ठ प्रश्न पूछे जायेंगे। (4 × 1 = 4)
  • (v – vi) पद परिचय से संबंधित दो वस्तुनिष्ठ प्रश्न पूछे जाएंगे। (2 × 1 = 2)
  • (vii – xi) तक पाठ्य-पुस्तक (हिंदी पुस्तक-12) में से पाँच वस्तुनिष्ठ प्रश्न पूछे जायेंगे। (5 × 1 = 5)
  • (xii – xvi) तक हिंदी साहित्य का इतिहास (रीतिकाल एवं आधुनिक काल) में से पाँच वस्तुनिष्ठ प्रश्न पूछे जायेंगे। (5 × 1 = 5)
  • (xvii – xviii) छंद से संबंधित दो वस्तुनिष्ठ प्रश्न पूछे जाएंगे। (2 × 1 = 2)
  • (xvii – xviii) अलंकार से संबंधित दो वस्तुनिष्ठ प्रश्न पूछे जाएंगे। (2 × 1 = 2)

भाग – ख (पाठ्य-पुस्तक) (23 Marks)

प्रश्न 2. (i) हिंदी पुस्तक-12 में संकलित ‘प्राचीन काव्य’ में से दो पद्यांश दिये जायेंगे जिनमें से एक पद्यांश की सप्रसंग व्याख्या लिखने के लिये कहा जायेगा। प्रसंग के लिये 1 अंक तथा व्याख्या के लिये 3 अंक निर्धारित हैं। (1 + 3 = 4)

(ii) हिंदी पुस्तक-12 में संकलित ‘आधुनिक काव्य’ में से दो पद्यांश दिये जायेंगे जिनमें से एक पद्यांश की सप्रसंग व्याख्या लिखने के लिये कहा जायेगा। प्रसंग के लिये 1 अंक तथा व्याख्या के लिये 3 अंक निर्धारित हैं। (1 + 3 = 4)

प्रश्न 3. ‘प्राचीन काव्य’ तथा आधुनिक काव्य की विषय वस्तु से संबंधित दो लघूत्तर प्रश्न पूछे जायेंगे जिनमें से एक प्रश्न का उत्तर लगभग 50 शब्दों में लिखने के लिए कहा जायेगा। (2½)

प्रश्न 4. पाठ्य-पुस्तक में संकलित गद्य भाग की विषय वस्तु से संबंधित तीन निबंधात्मक प्रश्न पूछे जायेंगे जिनमें से एक प्रश्न का उत्तर लगभग 80 शब्दों में लिखने के लिये कहा जायेगा। (5)

नोट : प्रश्न-पत्र निर्माता पाठ्य-पुस्तक में संकलित गद्य भाग (निबंध, कहानी एवं एकाँकी) की सर्भ विधाओं को पूर्ण प्रतिनिधित्व दे।

प्रश्न 5. पाठ्य-पुस्तक में संकलित ‘निबंध’ भाग में से दो लघूत्तर प्रश्न पूछे जायेंगे जिनमें से एक प्रश्न का उत्तर लगभग 50 शब्दों में लिखने के लिये कहा जायेगा। (2½)

प्रश्न 6. पाठ्य-पुस्तक में संकलित ‘कहानी’ भाग में से दो लघूत्तर प्रश्न पूछे जायेंगे जिनमें से एक का उत्तर लगभग 50 शब्दों में लिखने के लिये कहा जायेगा। (2½)

प्रश्न 7. पाठ्य-पुस्तक में संकलित ‘एकाँकी’ भाग में से दो लघूत्तर प्रश्न पूछे जायेंगे जिनमें से एक प्रश्न का उत्तर लगभग 50 शब्दों में लिखने के लिये कहा जायेगा। (2½)

भाग – ग : हिंदी साहित्य का इतिहास (रीतिकाल एवं आधुनिक काल) (8 अंक)

प्रश्न 8. इस प्रश्न में हिंदी साहित्य के ‘रीतिकाल’ की प्रमुख परिस्थितियों, प्रमुख प्रवृत्तियों एवं प्रमुख कवियों से संबंधित दो निबंधात्मक प्रश्न पूछे जायेंगे जिनमें से एक प्रश्न का उत्तर लगभग 70-80 शब्दों में लिखने के लिये कहा जायेगा। (4)

प्रश्न 9. इस प्रश्न में हिंदी साहित्य के ‘आधुनिक काल’ की प्रमुख परिस्थितियों, प्रमुख प्रवृत्तियों एवं प्रमुख कवियों से संबंधित दो निबंधात्मक प्रश्न पूछे जायेंगे जिनमें से एक प्रश्न का उत्तर लगभग 70-80 शब्दों में लिखने के लिये कहा जायेगा। (4)

भाग – घ (रचनात्मक लेखन) (7 अंक)

प्रश्न 10. यह प्रश्न निबंध रचना से संबंधित होगा। कोई चार विषय देकर उनमें से किसी एक विषय पर लगभग 230-250 शब्दों में निबंध लिखने के लिये कहा जायेगा। भूमिका के 2 अंक, विषय वस्तु के 4 अंक और उपसंहार के 1 अंक निर्धारित हैं। (2 + 4 + 1 = 7)

भाग – ङ (व्यावहारिक ज्ञान) (9 अंक)

प्रश्न 11. इस प्रश्न में लगभग 40-50 शब्दों का पंजाबी में एक गद्यांश दिया जायेगा जिसका अनुवाद हिंदी में लिखना होगा। (3)

प्रश्न 12. अंग्रेजी के पाँच पारिभाषिक शब्द दिए जायेंगे जिनमें से किन्हीं तीन शब्दों के हिंदी रूप लिखकर वाक्यों में प्रयोग करने के लिए कहा जायेगा। (3)

प्रश्न 13. विज्ञापन और सूचना से संबंधित दो प्रश्न पूछे जायेंगे जिनमें से एक प्रश्न का उत्तर लिखने के लिये कहा जायेगा। (3)

भाग – च (छंद एवं अलंकार) (8 अंक)

प्रश्न 14. कोई दो छंद देकर किसी एक छंद का लक्षण एवं उदाहरण लिखने के लिये कहा जायेगा। (1 + 3 = 4)

प्रश्न 15. कोई दो अलंकार देकर किसी एक अलंकार की परिभाषा एवं उदाहरण लिखने के लिये कहा जायेगा।
(1 + 3 = 4)

आंतरिक मूल्यांकन (20 अंक)

आंतरिक मूल्यांकन की रूपरेखा

1. भाषायी कौशलों का मूल्यांकन (12 अंक)

  • श्रवण कौशल (3)
  • वाचन कौशल (3)
  • पठन कौशल (3)
  • लेखन कौशल (3)

2. पुस्तक बैंक (2 अंक)
विद्यार्थी द्वारा स्कूल के पुस्तकालय में हिंदी विषय की पुस्तकों के संग्रह में योगदान देने के आधार पर मूल्यांकन किया जाए। स्कूल में बने पुस्तक बैंक में समय पर पुस्तकें जमा करवाने व पुस्तकों का रखरखाव करने आदि के आधार पर मूल्यांकन किया जाए।

3. परियोजना कार्य : (6 अंक)
इसके अंतर्गत निर्धारित पाठ्यक्रम के आधार पर अध्यापक द्वारा विद्यार्थियों को परियोजना तैयार करने को कहा जाएगा, जिसका मार्गदर्शन अध्यापक करेगा। विद्यार्थी परियोजना लिखते समय उसे रुचिपूर्ण बनाने के लिए चित्रों का प्रयोग कर सकता है। इसके अंक निम्नलिखित प्रकार से निर्धारित होंगे। विषय वस्तु की समझ एवं प्रस्तुतिकरण (2 + 4 = 6)

PSEB 12th Class Hindi Syllabus

कक्षा – बारहवीं (पंजाब)
विषय – हिंदी
समय : 3 घंटे

पूर्णांक (लिखित) = 75 + 5 (सुंदर लिखाई) = 80
आंतरिक मूल्यांकन : 20

विषय-वस्तु अंक
भाग – क : अति लघूत्तर प्रश्न (वस्तुनिष्ठ प्रश्न) 20
समास (अव्ययीभाव, तत्पुरुष, बहुब्रीहि तथा द्वंद्व)
पाठ्य-पुस्तक
हिंदी साहित्य का इतिहास (रीतिकाल एवं आधुनिक काल)
छंद
अलंकार
भाग – ख : पाठ्य-पुस्तक (हिंदी पुस्तक-12) 23
भाग – ग : हिंदी साहित्य का इतिहास (रीतिकाल एवं आधुनिक काल) 8
भाग – घ : रचनात्मक लेखन : निबंध लेखन 7
भाग – ङ : व्यावहारिक ज्ञान 9
1. पंजाबी गद्यांश का हिंदी अनुवाद 3
2. पारिभाषिक शब्दावली (J से लेकर Z तक) 3
3. विज्ञापन लेखन, सूचना लेखन 3
भाग-च : छन्द एवं अलंकार 8
1. छंद (दोहा, सोरठा, सवैया, कवित्त, चौपाई) 4
2. अलंकार (अनुप्रास, उपमा, रूपक, यमक, श्लेष)। 4

Leave a Comment